आयुष्मान भारत योजना – बीमारियों की सूची (Download कैसे करें)

By | November 24, 2019

आयुष्मान भारत योजना – बीमारियों की सूची डाउनलोड कैसे करें?
How to Download List of Bimari (Diseases) under Ayushman Bharat Yojana

आयुष्मान भारत योजना | रोगों की सूची- आयुष्मान भारत योजना विश्व की सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना है। इसके तहत कुल 1350 बीमारियों का ईलाज मुफ्त किया जा रहा है। कुल मिलाकर देखा जाए तो कोई ही ऐसी बीमारी होगी, जो इस जन आरोग्य योजना के तहत निशुल्क ईलाज की श्रेणी में न आती हो।

इस योजना की खास बात यह भी है कि अगर आप का नाम जन आरोग्य योजना अर्थात आयुष्मान भारत योजना में है, तथा आपके पास आयुष्मान कार्ड अर्थात आयुष्मान गोल्ड कार्ड (Ayushman Bharat Gold Card) है, तो आप अपने मरीज का ईलाज किसी भी प्राईवेट अथवा सरकारी अस्पताल में करवा सकते हैं, जो कि इस योजना के तहत निशुल्क ईलाज की सुविधा दे रहा है।

किन-किन बीमारियों का ईलाज मुफ्त होगा:

ह्रदय रोग, ह्रदय शल्य चिकित्सा, आंखों के रोग तथा उनका ऑपरेशन, आंख, कान, नाक व गला संबंधी रोग, हड्डी रोग, मृत्र रोग, हार्ट में स्टंट डलवाना, बाईपास सर्जरी, कार्डियोथोरेसिक सर्जरी, न्यूरो सर्जरी, न्यूरो रेडियोलॉजी, प्लास्टिक सर्जरी तथा बर्न सर्जरी, वाल्व रिप्लेसमेंट, घुटना बदलना अथवा घुटने की सर्जरी, कूल्हे का ऑपरेशन व कैंसर सहित करीब 1300 बीमारियों का ईलाज मुफ्त है।

बिना पैसे अस्पताल में भर्ती तथा ईलाज-

कई बार देखा गया है कि पैसे की कमी के चलते बहुत से लोग अपने परिवार के किसी सदस्य का ईलाज नहीं करवा पाते। परंतु आयुष्मान भारत योजना शुरू होने के बाद लाभार्थी परिवार अपने परिवार के किसी भी सदस्य का ईलाज निशुल्क करवा सकते हैं, तथा वह भी मनचाहे प्राईवेट अस्पताल में। यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि सभी प्राईवेट अस्पतालों में आयुष्मान कार्ड मान्य नहीं है। लेकिन बहुत से अच्छे तथा जाने माने प्राईवेट अस्पताल हैं, जहां आप अपने मरीज का ईलाज बिना किसी परेशानी के करवा सकते हैं।

पूरा ईलाज निशुल्क-

आयुष्मान भारत योजना के तहत मिलने वाले स्वास्थ्य बीमा का सबसे बड़ा फायदा यह है कि मरीज का 5 लाख रूपए तक का ईलाज पूरी तरह मुफ्त दिया जाता है। साथ ही मरीज को पहले अस्पताल की फीस जमा करवाने की भी कोई जरूरत नहीं होती है।

आयुष्मान मित्र की सहायता-

भारत सरकार द्वारा आयुष्मान मित्रों की नियुक्तियां की गई हैं। जिस स्थान पर आप ईलाज करवाना चाहते हैं, वहां आयुष्मान मित्र आपकी मदद करेगा, तथा इस योजना का लाभ उठाने के लिए आपकी पूरी सहायता करेगा।

आयुष्मान भारत टोल फ्री नंबर-

सरकार द्वारा लाभार्थियों को आयुष्मान योजना का लाभ देने के लिए एक टोल फ्री नंबर भी जारी किया गया है। इस टोल फ्री नंबर का फोन करके आप इस योजना के तहत मिलने वाले फ्री ईलाज तथा अस्पताल के बारे में पूरी जानकारी हासिल कर सकते हैं। आप अपने मोबाईल से 14555 डायल करके मनचाही जानकारी हासिल कर सकते हैं।

सीएससी सेंटर (Common Service Center) –

भारत सरकार द्वारा हर जिले व शहर में कॉमन सर्विस सेंटरों की स्थापना भी की गई है। इस जन सुविधा केंद्रों के माध्यम से आप आयुष्मान योजना के तहत मिलने वाले निशुल्क हेल्थ बीमा के बारे में जानकारी ले सकते हैं, साथ ही अपना आयुष्मान कार्ड भी प्राप्त कर सकते हैं।

यह भी देखें-

21 thoughts on “आयुष्मान भारत योजना – बीमारियों की सूची (Download कैसे करें)

  1. Badal raj

    सर मेरा में आप से अनुरोध है कि masaurhi में प्रवेट हॉस्पिटल नहीं है किप्या कर के दिय जाए धन्यवाद

    Reply
  2. Ramvilas d r

    Ramvilas RAVIDAS
    Bill +po Ghostama p.s+d.s Nawada
    Sat ate bihar

    Reply
  3. लाल बिहारी पाठक

    1 आयुष्यमान भारत योजना का लाभ समान्यतः आम आदमी को जागरूकता के अभाव के कारण लाभ नहीं मिल रहा है।
    2 अस्पताल प्रबंधनों के द्वारा जांच के नाम पर पहले मरीज के जेब से काफी कुछ रकम ऐंठने का काम किया जा रहा है।
    3 कभी कभी मरीज को यह कह कर चलता कर दिया जाता है कि जो बिमारी तुम्हें हैं इस बिमारी के इलाज के लिए हमारे पास योजना से अनुबंध नहीं है तुम्हें हमारे यहां पैसों से इलाज कराना पडेगा तब मरीज से नगदी और दस्ताबेज दोनों लेते हैं बाद में उन्ही दस्ता बेजों के माध्यम से साशन से भी पैसा निकालने का काम किया जाता है।
    4 मेरा सुझाव है कि भारत आज भी गांवों का देश कहलाता है तब फिर मेडिकल सेक्टर में 100%अंग्रेजी भाषा का प्रयोग क्यों हो रहा है हिन्दी और क्षेत्रिय भाषा का प्रयोग क्यों नहीं हो रहा है।
    4 प्रायबेट अस्पतालों‌ के बाहर सूचना पटल होना चाहिए उस हिन्दी और क्षेत्रिय भाषा में बीमारी के नाम के साथ बीमारी पर आने वाले खर्च का भी उल्लेख होना चाहिए।
    अस्पताल प्रबंधनों को यह भी लिखना चाहिए कि इस अस्पताल इन बीमारियों का इलाज होता है।

    Reply
    1. Prashant jain 9098913150

      Mere papa ko gurdo me infheksan hai or unke pas ayushmam card bhi hai fhir bhi bhopal ke koi hospital bale mana kar rahe hai ki is bimari ka ilaj nahi hota ayushman card se plz meri help kare sir

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *